• 0
  • No Items available
x

Yaadon Ke Jharokhe Se (यादों के झरोखे से...)


Weight: 150.00 (Gram)
Publisher: Cygnet
Categories: Autobiography
ISBN(13): 9788192570983


स्मृतियाँ और सपने मनुष्य की सच्ची पूँजी हुआ करते हैं, जो उसके सोच और आचरण को तय करते हैं। जीवन में समय ज्यों-ज्यों आगे बढ़ता जाता है, वह अपने पीछे अनेक ऐसी स्मृतियाँ छोड़ जाता है, जो भुलाये नहीं भूलतीं। प्रस्तुत पुस्तक ‘यादों के झरोखे से’ में लेखक श्याम बिहारी सिंह ने अपने इन्ही खट्टे-मीठे संस्मरणों को अपनी आत्मकथा का रूप देते हुए इतने रोचक ढंग से लिखा है कि इन्हे पढ़ते हुए पाठक को ऐसा महसूस होता है जैसे उसके सामने कोई फिल्म चल रही है।


Hand-picked Items Recommended by Us